Shoolini ने h-इंडेक्स 100 कीर्तिमान हासिल किया

सोलन, भारत, 18 जनवरी, 2023 /PRNewswire/ — Shoolini University ने h-इंडेक्स 100 प्राप्त किया है, जो 2008 के बाद स्थापित संस्थानों में उत्तर भारत में सर्वाधिक, और देश में दूसरा स्थान है, जिससे आगे केवल IIT इंदौर रहा है। Shoolini University का 100 h-इंडेक्स यह दिखाता है कि इसके 100 शोध पत्र कम से कम 100 या इससे अधिक बार उद्धृृत किए गए हैं। यह मानदंड, यूनिवर्सिटी की स्थापना के बाद अवधि पर भी निर्भर करता है।

Shoolini University’s 100 h-index implies that its 100 research papers have been cited at least 100 times or more

h-इंडेक्स को स्कोपस सूचकों के आधार पर मूल्यांकित किया जाता है, जो अकादमिक साहित्य के लिए सबसे प्रतिष्ठित सारांश और उद्धरण डेटाबेस माने जाते हैं। h-इंडेक्स शोध गुणवत्ता दिखाता है और उद्धरणों की संखया और शोधपत्रों की संखया की तुलना के आधार पर इसकी गणना की जाती है।

हाल ही में, Times Higher Education (THE) वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग्स 2023 ने Shoolini University को भारत में नं. 1 निजी यूनिवर्सिटी और विश्वस्तर पर 351-400 के बीच स्थान दिया है। उद्धरणों में (शोध प्रेरणा), Shoolini University को विश्वस्तर पर 39 (THE) और भारत में नं.1 (QS वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग्स, एशिया 2023) की रैंक दी गई है।

यूनिवर्सिटी के चांसलर प्रो PK Khosla ने इस अवसर पर कहा कि यह उपलब्धि, यूनिवर्सिटी के अध्येताओं के द्वारा शोध की गुणवत्ता और उनकी समर्पण भावना तथा किए गए कड़े परिश्रम को दर्शाती है। उन्होंने कहा कि Scopus डेटाबेस के अनुसार, प्रकाशनों की कुल संखया अब 2,880 और उद्धरण 53,687 के स्तर पर हैं। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी, शोध कार्य पर अपना ध्यान केंद्रित रखेगी और इसे अंडरग्रेजुएट स्तर पर भी बढ़ावा देगी।

प्रो चांसलर Vishal Anand ने कहा कि h-इंडेक्स 100, Shoolini University में शोधकर्ताओं द्वारा किए गए शोध कार्य की गुणवत्ता और प्रासंगिकता को स्पष्ट रूप से दिखाता है। उन्होंने कहा कि, “यह किसी भी अकादमिक और शोध संस्थान के लिए एक महत्त्वपूर्ण कीर्तिमान है, और हमें गर्व है कि Shoolini ने एक नई यूनिवर्सिटी के रूप में एक सबसे कम अवधि में इसे हासिल कर लिया है।” 

वाइस चांसलर प्रो Atul Khosla ने यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं और फैकल्टी सदस्यों को बधाई दी। Shoolini के सभी शोधकर्ताओं की समर्पण भावना और कड़े परिश्रम की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि “कुछ वर्ष पहले तक यह एक कठिन कार्य प्रतीत होता था, लेकिन हमने थोड़े ही समय में इसे पूरा कर लिया।”

Shoolini यूनिवर्सिटी के बारे में:

2009 में स्थापित, Shoolini University of Biotechnology and Management Sciences एक अनुसंधान प्रेरित, निजी यूनिवर्सिटी है जिसे UGC से पूरी मान्यता प्राप्त है। यह भारत की एक प्रमुख यूनिवर्सिटी है जो नवप्रवर्तन पर अपने फोकस, क्वॉलिटी प्लेसमेंट और विश्व स्तरीय फैकल्टी के लिए प्रसिद्ध है। हिमालय के निचले भाग में स्थित, इस यूनिवर्सिटी को NAAC से मान्यता प्राप्त है और इसे NIRF द्वारा रैंक किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए, कृपया देखें: https://shooliniuniversity.com/

लोगो: https://mma.prnewswire.com/media/1984464/100_h_index.jpg

लोगो: https://mma.prnewswire.com/media/792680/Shoolini_University_Logo.jpg

Shoolini_University_Logo

Cision View original content:https://www.prnewswire.com/in/news-releases/shoolini–h–100—-301724320.html

Disclaimer: The above press release comes to you under an arrangement with PR Newswire. Indiahallabol.com takes no editorial responsibility for the same.

Check Also

मानवता की सेवा के उद्देश्य से एनआईडी फाउंडेशन ने 646वीं गुरु रविदास जयंती पर वाराणसी में रक्तदान शिविर का किया आयोजन

स्वयंसेवकों ने किया 300 यूनिट रक्तदान ; एनआईडी फाउंडेशन देश में बढ़ती खून की ज़रूरतों को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *