मध्य प्रदेश की डर्टी पिक्चर में एक और पुलिसकर्मी सस्पेंड

मध्यप्रदेश पुलिस का नारा है देश भक्ति जन सेवा, इस स्लोगन को होशंगाबाद के कुछ पुलिसकर्मियों ने इस पर दाग लगा दिया है. यहां पुलिसकर्मी आरोपी महिला के साथ मिलकर ब्लैक मेलिंग कर वारदात को अंजाम दिया करते थे.और आपस में मिलकर अपना हिस्सा बांट लिया करते थे.

इसी कड़ी में आज एक पुलिसकर्मियों को निलंबित किया है, जो इसमें शामिल था.होशंगाबाद जिले के कोतवाली थाने में पदस्थ सब इंस्पेक्टर जय जलवाया, प्रधान महिला आरक्षक ज्योति मांझी और आरक्षक मनोज वर्मा को एसपी संतोष सिंह गौर ने निलंबित किया गया है.

इसी कड़ी में शुक्रवार एसडीओपी कार्यालय में पदस्थ आरक्षक ताराचंद जाटव को भी निलंबित कर दिया है. इन पुलिसकर्मियों पर एक अन्य महिला के साथ मिलकर वीडियो बनाकर ब्लैक मैलिंग करने वाली महिला का साथ देने का आरोप है.

वहीं ब्लैकमेलिंग के मामले में ये पुलिसकर्मी भी आरोपी बनाए जाने की संभावना है. हालांकि इन पुलिसकर्मियों को अभी महिला की शिकायत के आधार पर निलंबित किया गया है. मामले में अभी जांच बाकी है.दरअसल तीन दिन पहले कोतवाली थाने में शांतिनगर निवासी युवक भविष्य ने शिकायत दर्ज कराया था.

शिकायत में सुनीता ठाकुर नाम की महिला के खिलाफ केस दर्ज हुआ था. जिसके बाद से आरोपी महिला अभी फरार चल रही है. आरोपी महिला पहले युवाओं को बहला फुसलाकर होटल में बुलाती थी.

जिसके बाद वीडियो बनाकर पुलिस युवाओं पर दबाव डालकर ब्लैकमेलिंग करते थे और रुपयों की डिमांड करते थे, फिर रुपयों को आपस मे बांट लेते थे.बता दें कि अब तक की जांच में यह स्पष्ट हो गया है कि महिला के साथ मिलकर तीनों पुलिस युवक को पैसे के लिए परेशान कर रहे थे और उसे लगातार ब्लैकमेल कर रहे थे.

सूत्रों के मुताबिक करीब सात लाख रुपये तक लेने की बात सामने आयी है. वहीं पुलिस अधिकारियों को इस बात का सुराग भी लगातार लगा रही है कि कितने लोग इस गैंग से जुड़े है. पुलिस को कई पर्ते खुलना का इंतजार है.

Check Also

मध्य प्रदेश में कारम बांध रिसाव मामले को लेकर सड़क पर धरने पर बैठे कमलनाथ

मध्य प्रदेश में कारम बांध रिसाव मामले को लेकर कांग्रेस विधायक पांची लाल मेड़ा ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *