पेनल्टी कार्नर पर भारत का फोकस

hockey-india-new-coach-paul

मुख्य कोच पाल वान ऐस का मानना है कि शनिवार को हॉकी विश्व लीग सेमीफाइनल में होने वाला पहला मुकाबला उनकी टीम के लिये असली चुनौती होगा जिसमें कोई कोताही बरतने की गुंजाइश नहीं रहेगी।भारतीय टीम को न सिर्फ पेनल्टी कार्नर बनाने होंगे बल्कि उन्हें तब्दील भी करना होगा। उन्होंने कहा, ‘टीम फार्म में लग रही है क्योंकि अभ्यास मैच में इसने अच्छा प्रदर्शन किया है। कल का मैच असली चुनौती होगा।’ कोच ने कहा, ‘ब्रिटेन के खिलाफ अभ्यास मैच से हमें शुरूआती दबाव हटाने में काफी मदद मिली। उम्मीद है कि कल भी यह लय कायम रहेगी।’ 

उन्होंने कहा, ‘फ्रांस के खिलाफ हमें सावधान रहना होगा क्योंकि वह मजबूत टीम है और आसानी से हार नहीं मानेगी। कल अहम पेनल्टी कार्नर हासिल करना और उन्हें गोल में बदलना जरूरी होगा।’ भारतीय पुरूष टीम जहां फ्रांस से खेलेगी वहीं महिला टीम का सामना पहले मैच में बेल्जियम से होगा।विश्व रैंकिंग में नौवें स्थान पर काबिज भारतीय टीम आस्ट्रेलिया, पोलैंड, फ्रांस और चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के पूल में है। भारतीय टीम ने पहले अभ्यास मैच में फ्रांस को हराकर शानदार शुरूआत की थी। दूसरे अभ्यास मैच में उसे बेल्जियम ने हराया लेकिन उसके बाद टीम ने अमेरिका और ग्रेट ब्रिटेन को शिकस्त दी। 

पिछले रिकार्ड के आधार पर फ्रांस के खिलाफ भारत का पलड़ा भारी होगा। आखिरी बार दोनों का सामना 2013 राबोबैंक हाकी विश्व लीग सेमीफाइनल्स में नीदरलैंड में हुआ था जिसमें भारत ने 6.2 से जीत दर्ज की थी।

 

Check Also

अगले महीने पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला में ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी भारतीय हॉकी टीम

भारतीय पुरुष हॉकी टीम पुरुष हॉकी विश्व कप 2023 से पहले नवम्बर 2022 में पांच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *