खिलाड़ियों या सहयोगी स्टाफ में कोई कोविड-19 पॉजिटिव मामला आने पर भी जारी रहेगा भारत-दक्षिण अफ्रीका मुकाबला

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के चिकित्सा अधिकारी सुहैब मंजरा ने कहा कि बीसीसीआई और सीएसए ने आपस में मिलकर सहमति बनायी है कि भले ही खिलाड़ियों या सहयोगी स्टाफ में कोई कोविड-19 पॉजिटिव मामला सामने आ जाये, दोनों टीमें आगामी टेस्ट और वनडे श्रृंखला जारी रखेंगी और करीबी संपर्कों को पृथकवास में रहने के लिए बाध्य नहीं किया जायेगा।

भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला 26 दिसम्बर से शुरू करेगी जिसके बाद दूसरा टेस्ट जोहांसबर्ग में तीन से सात जनवरी तक और तीसरा टेस्ट 11 से 15 जनवरी तक केपटाउन में खेला जायेगा। टेस्ट श्रृंखला के बाद तीन मैचों की वनडे श्रृंखला खेली जायेगी जिसके मैच 19, 21 और 23 जनवरी को होंगे।

एक विशिष्ट सहमति है कि बीसीसीआई दौरे से तभी हट सकता है, अगर दक्षिण अफ्रीका में परिस्थितियां खराब हो जाती हैं जहां नया कोविड का नया स्वरूप ओमिक्रोन पाया गया था। पर एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि उन्हें अभी तक किसी के भी हटने की संभावना नहीं है। सीएसए ने कहा हमने भारत के साथ चर्चा की और एक प्रोटोकॉल पर सहमति बनायी।

यह देखते हुए कि बायो-बबल के अंदर सभी का टीकाकरण हो चुका होगा तो अगर पॉजिटिव मामला सामने आता है और अगर उसकी स्थिति स्थिर है तो वह होटल के अंदर ही अलग रहेगा। उन्होंने कहा संपर्क वाले खिलाड़ी खेलना और अभ्यास जारी रखेंगे तथा उनका प्रतिदिन परीक्षण किया जायेगा।

पता चला है कि रैपिड एंटीजन परीक्षण रोज किया जायेगा और दोनों टीमें पॉजिटिव मामले सामने आने से उत्पन्न होने वाली स्थिति के लिए तैयार हैं। लेकिन जब तक उचित एहतियात बरते जायेंगे, श्रृंखला जारी रहेगी।उन्होंने कहा बीसीसीआई सीएसए द्वारा भारतीय टीम को मुहैया कराये गये बायो-बबल से काफी संतुष्ट है।

हां, हम निश्चित रूप से अपने खिलाड़ियों और उनके परिवारों के सर्वश्रेष्ठ हित में फैसला करेंगे। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर  कहा अभी तक हर कोई जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में है और नियमित परीक्षण किया जा रहा है। अधिकारी ने कहा विवाद का मुद्दा था कि करीबी संपकरे का क्या होता है।

आपका कोई खिलाड़ी या सहयोगी स्टाफ पॉजिटिव हो सकता है लेकिन पहले हमने देखा कि करीबी संपर्क भले ही आरटी-पीसीआर परीक्षण में नेगेटिव आ जायें, उन्हें खुद को पृथक रखना पड़ता था। जब ऐसा होता है तो मैच जारी रखना मुश्किल हो जाता है।भारत का दौरा दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट के लिए व्यावसायिक अधिकारों के लिहाज से काफी अहम है, इसके अलावा श्रृंखला के प्रसारण अधिकार से मिलने वाली बड़ी धन राशि भी है।

भारतीय टीम सेंचुरियन में एक रिजॉर्ट में रह रही है जहां बायो-बबल के अंदर ही काफी खाली जगह है जिससे उनके परिवार बंद कमरों तक ही सीमित नहीं है जैसा कि पांच सितारा होटल में हुआ करता था। इस श्रृंखला के मैच दर्शकों के बिना ही खेले जायेंगे।

Check Also

ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप 2022 से बाहर हुए भारत के शीर्ष तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह

भारत के शीर्ष तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप 2022 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *