पंजाब कैबिनेट ने दी होम डिलीवरी सेवा को मंजूरी

पंजाब में मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व में पंजाब कैबिनेट ने आटा की होम डिलीवरी सेवा 1 अक्टूबर से शुरू करने की मंजूरी दे दी है और इसे तीन चरणों में लागू किया जाएगा। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) के तहत आटे की होम डिलीवरी शुरू करने के खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए पूरे राज्य को आठ क्षेत्रों में विभाजित किया गया है और सेवा पहले चरण में एक क्षेत्र में शुरू होगी, दूसरे चरण में दो जोन में और अंतिम व तीसरे चरण में शेष पांच जोन में।

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि सरकार एनएफएसए के तहत नामांकित प्रत्येक लाभार्थी को आटे की होम डिलीवरी का विकल्प देगी। कोई लाभार्थी, जो उचित मूल्य की दुकान से गेहूं खुद जाकर लाना चाहता है, उसके पास यह विकल्प भी होगा।

राशन वितरण चक्र अब त्रैमासिक से मासिक में बदल जाएगा।होम डिलीवरी सेवा में उचित मूल्य की चलती-फिरती दुकानें लोगों के घर तक पहुंचेंगी। ये दुकानें परिवहन वाहन पर चलेंगी, जिनमें जीपीएस सुविधा और कैमरा लगा होगा, ताकि लाभार्थी को आटा सौंपने की लाइव स्ट्रीम हो सके।

Check Also

आरबीआई ने सभी क्रेडिट सूचना कंपनियों को दिया एक आंतरिक लोकपाल नियुक्त करने का निर्देश

आरबीआई ने सभी क्रेडिट सूचना कंपनियों को 1 अप्रैल, 2023 तक एक आंतरिक लोकपाल नियुक्त करने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *