कारगिल युद्ध से पाकिस्तानी सेना को वापस बुलाने के लिए नवाज शरीफ जिम्मेदार : परवेज मुशर्रफ

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने कारगिल युद्ध के दौरान सेना को वापस बुलाने के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को जिम्मेदार ठहराया है। मुशर्रफ का कहना है कि शरीफ ने कारगिल युद्ध के दौरान भारत के दबाव की वजह से उस वक्त पाक सेना से वापस लौटने को कहा जब वो दुश्मन पर बिल्कुल हावी हो चुकी थी।

उन्होंने 2008 मुंबई हमलों पर बयान देने के लिए शरीफ पर देशद्रोह का केस चलाने की भी मांग की। बता दें कि परवेज मुशर्रफ पर पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्या का केस चल रहा है। वे अभी पाक छोड़कर दुबई में रह रहे हैं।करगिल युद्ध की जानकारी देते हुए मुशर्रफ ने कहा पाकिस्तानी सेना उस वक्त भारत पर 5 अलग-अलग मोर्चों पर हावी थी।

इस बारे में प्रधानमंत्री शरीफ को कम से कम दो बार जानकारी भी दी गई थी।मुशर्रफ ने अपने बयान में बताया कि लड़ाई के दौरान शरीफ ने उसे कई बार पीछे हटने के लिए कहा, जबकि उस समय सांसद रहे राजा जफरुल हक और गृहमंत्री चौधरी शुजात ने सेना के पीछे हटने का विरोध किया था।

हालांकि, इसके बावजूद शरीफ ने अमेरिका जाकर करगिल से सेना हटाने का आदेश जारी कर दिया। मुशर्रफ ने दावा किया कि शरीफ पर भारतीय सरकार ने दबाव बनाया था, लेकिन उन्होंने मुझे दोषी ठहरा दिया।मुंबई आतंकी हमलों पर नवाज शरीफ के बयान पर मुशर्रफ ने कहा कि इसके लिए सेना और पाकिस्तानी संस्थानों का जिम्मेदार ठहराना बेहद निराशाजनक है।

उन्होंने शरीफ के बयान का मजाक उड़ाते हुए कहा कि इसके लिए उन पर संविधान के आर्टिकल 6 के तहत देशद्रोह का केस चलना चाहिए।उन्होंने पाकिस्तानी सेना को दुनियाभर में बदनाम करने के लिए भी शरीफ को गद्दार बताया। बता दें कि सोमवार को ही पाकिस्तान की नेशनल सिक्युरिटी कमेटी ने शरीफ के बयान की निंदा करते हुए तर्कहीन और भ्रम फैलाने वाला बताया था।

 इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने कहा पाकिस्तान में अभी भी आतंकी संगठन सक्रिय हैं। क्या हम उन्हें सीमा पार कर मुंबई में घुसकर 150 लोगों को मारने का आदेश दे सकते हैं?क्या कोई मुझे इस बात का जवाब देगा? हम तो केस भी पूरा नहीं चलने देते।

बता दें कि हाल ही में पाक ने 26/11 के मुंबई हमले की पैरवी कर रहे मुख्य वकील चौधरी अजहर को हटा दिया गया था।नवाज ने ये भी कहा अगर आप कोई देश चला रहे हैं तो उसी के साथ में दो या तीन समानांतर सरकारें नहीं चला सकते। इसे बंद करना होगा। आप संवैधानिक रूप से केवल एक ही सरकार चला सकते हैं।

Check Also

पाकिस्तान में इमरान खान लेंगे 11 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ

पाकिस्तान में इमरान खान की सरकार बनने जा रही है। वे 11 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *