भारतीय अंडर 20 टीम ने 6 बार की चैंपियन अर्जेंटीना को फुटबॉल मैच में हराकर रचा इतिहास

भारतीय अंडर 20 टीम ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 10 खिलाड़ियों तक सिमटने के बावजूद कोटिफ कप फुटबॉल टूर्नामेंट में पारंपरिक दिग्गज अर्जेंटीना को 2-1 से हरा दिया. भारत के लिए दीपक टांगड़ी ने चौथे और अनवर अली ने 68वें मिनट में गोल किए.

भारत ने छह बार की अंडर-20 विश्व चैम्पियन टीम को हराया, जिसके कोच 2006 के विश्व कप खिलाड़ी लियोनेल स्कालोनी और पूर्व स्टार मिडफील्डर पाब्लो ऐमार हैं.फ्लायड पिंटो की भारतीय टीम मर्शिया से 0-2 और मौरिशानिया से 0-3 से हार गई थी.

पिछले मैच में उसने वेनेजुएला से गोलरहित ड्रॉ खेला. पिंटो ने मैच के बाद से कहा इस जीत से भारतीय फुटबॉल को विश्व स्तर पर और सम्मान मिलेगा. इससे हमें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ नियमित तौर पर और खेलने के मौके मिलेंगे.

टांगड़ी ने एन मीताइ के कार्नर शाट पर गेंद को लपकते हुए हेडर पर पहला गोल किया. इसके बाद भारत ने काफी आक्रामक खेल दिखाया. दूसरे हाफ की शुरुआत में ही अली ने कप्तान अमरजीत सिंह के पास पर मूव बनाया लेकिन उसे गोल में नहीं बदल सके.

भारत को सिर्फ 10 खिलाड़ियों के साथ खेलना पड़ा, क्योंकि अनिकेत जाधव को 54वें मिनट में लाल कार्ड दिखाया गया था. अर्जेंटीना ने आखिरी मिनटों में एकमात्र गोल किया. इससे पहले भारत ने वेनेजुएला की अंडर-20 टीम के साथ ड्रॉ करने में सफलता हासिल की थी. 

बता दें कि अंडर 20 कोटिफ कप शुरू होने से पहले भारतीय अंडर-20 फुटबॉल टीम के कोच फ्लायड पिंटो ने कहा था कि फुटबॉल की बड़ी टीमों के साथ ही खेलकर हम आगे बढ़ सकते हैं. कोच पिंटो ने टीम के विकास के लिए ऐसी टीमों के खिलाफ मुकाबलों को जरूरी बताया है. 

पिंटो ने कहा था हमारे लिए प्रतिस्पर्धी मैच में वेनेजुएला जैसी मजबूत टीम के साथ खेलना बहुत बड़ी चुनौती है और इससे खुद का विकास करने का मौका मिलेगा. उन्होंने कहा था वेनेजुएला, अर्जेंटीना जैसी टीमों के साथ खेलने से खिलाड़ियों की विकास प्रक्रिया तेज होगी. 

बता दें कि कोटिफ कप की शुरुआत में हालांकि, भारतीय टीम स्थानील क्लबों मुर्सिया अंडर-20 और मौरितानिया अंडर-20 से दो मैच हार गई थी. मैरितानिया अंडर-20 के खिलाफ टीम पांच नियमित खिलाड़ियों के बिना मैदान में उतरी थी. इस मैच में राहुल केपी, संजीव स्टालिन और रहीम अली चोट के कारण जबकि अनवर अली और जितेंद्र सिंह निलंबन के कारण नहीं खेले थे.

Check Also

थाईलैंड में 17 दिन बाद गुफा से सुरक्षित निकाले गए 12 बच्चे और उनके कोच

थाईलैंड में संकरी गुफा में एक पखवाड़े से अधिक समय तक जल समाधि की विभीषिका …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *