फुटबॉल विश्व कप विजेता को मिलेंगे 255 करोड़ रुपए

इस बार फीफा की इनामी राशि 2014 में ब्राजील में हुए वर्ल्ड कप से 42 मिलियन डॉलर (281 करोड़ रुपए) ज्यादा है। रूस में 14 जून से शुरू होने वाले वर्ल्ड कप में भाग लेने वाली टीमों को इनाम के रूप में 400 मिलियन डॉलर (2684 करोड़ रुपए) मिलेंगे। भारत के सबसे लोकप्रिय खेल क्रिकेट वर्ल्ड कप की इनामी राशि से तुलना करें तो यह 39 गुना ज्यादा है।

क्रिकेट वर्ल्ड कप 2015 में कुल 1 करोड़ डॉलर (करीब 67 करोड़ रुपए) दांव पर लगे थे। 2015 में रग्बी वर्ल्ड कप जीतने वाली न्यूजीलैंड की टीम को भी सिर्फ 25 करोड़ रुपए ही मिले थे।फुटबॉल वर्ल्ड कप 2018 की विजेता टीम को 38 मिलियन डॉलर (255 करोड़ रुपए) दिए जाएंगे। वहीं फाइनल हारने वाली टीम को 28 मिलियन डॉलर (188 करोड़ रुपए) की राशि मिलेगी।

तीसरे और चौथे नंबर पर रहने वाली टीमों को क्रमशः 24 मिलियन डॉलर (161 करोड़ रुपए) और 22 मिलियन डॉलर (148 करोड़ रुपए) की राशि इनाम के तौर पर मिलेगी।वहीं 5वें से 8वां स्थान पाने वाली हर टीम के हिस्से 16-16 मिलियन डॉलर (107 करोड़ रुपए) आएंगे। जबकि 9वें से 16वें स्थान तक रहने वाली हर टीम को 12-12 मिलियन डॉलर (81 करोड़ रुपए) दिए जाएंगे।

खास यह है कि फुटबॉल के इस महाकुंभ में एक भी मैच नहीं जीतने वाली टीम भी अपनी झोली में करोड़ों लेकर जाएगी। फीफा के नियमानुसार, 17वें से 32वें स्थान पर रहने वाली हर टीम को 8-8 मिलियन डॉलर (करीब 54 करोड़ रुपए) की राशि मिलेगी।वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई करने वाली हर टीम को 1.5 मिलियन डॉलर (करीब 10 करोड़ रुपए) मुकाबले की तैयारियों के लिए भी मिलते हैं। 

फीफा ने क्लब बेनीफिट प्रोग्राम के तहत खिलाड़ियों को वर्ल्ड कप के लिए क्लब से रिलीज कराने के बदले सदस्य देशों को 209 मिलियन डॉलर (1402 करोड़ रुपए) दिए।यदि वर्ल्ड कप मैच के दौरान कोई खिलाड़ी घायल होता और वह किसी क्लब से जुड़ा है। ऐसे में उसके चोटिल होने से क्लब को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए फीफा ने 134 मिलियन डॉलर (900 करोड़ रुपए) का अलग से बजट रखा है। 

फीफा वर्ल्ड कप में इसके अलावा फेयर प्ले ट्रॉफी जीतने वाले खिलाड़ी को 50 हजार डॉलर (करीब 34 लाख रुपए) दिए जाते हैं।यदि दुनिया के सबसे ज्यादा इनामी राशि वाले टूर्नामेंट की बात करें तो वहां भी फुटबॉल नंबर वन है। यूएएफा चैम्पियंस लीग सबसे ज्यादा इनामी राशि वाली खेल प्रतियोगिता है।चैम्पियंस लीग जीतने वाली टीम पर फीफा वर्ल्ड कप चैम्पियन टीम से कहीं ज्यादा पैसा बरसता है।

हाल ही में खत्म हुई यूएएफा चैम्पियंस लीग का खिताब रीयल मैड्रिड ने जीता था।रीयल मैड्रिड को इनाम के तौर पर 716 करोड़ रुपए मिले। वहीं क्रिकेट के सबसे महंगे टूर्नामेंट इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की चैम्पियन बनने वाली टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के खाते में महज 20 करोड़ रुपए आए थे। कुल प्राइज मनी की बात करें तो चैम्पियंस लीग इस मामले में 365 गुना आगे है।

चैम्पियंस लीग की कुल प्राइज मनी 18,300 करोड़ रुपए होती है। वहीं आईपीएल में यह राशि महज 50 करोड़ रुपए है।रग्बी वर्ल्ड कप की भी गिनती दुनिया के टॉप-10 इनामी राशि वाली प्रतियोगिता में की जाती है। इसमें विजेता की राशि वर्ल्ड कप समाप्त होने के बाद इंटरनेशनल रग्बी बोर्ड (आईआरबी) को हुई आमदनी पर निर्भर करती है। 

यही वजह है कि पुरस्कार राशि का भुगतान करने के बजाए, खिलाड़ियों को टूर्नामेंट में जीते गए मैचों के लिए बोनस दिया जाता है। इसके अलावा संबंधित खेल संघ खिलाड़ियों को विशेष अनुबंध शुल्क देते हैं। बोनस की राशि बहुत ज्यादा बढ़ाई भी जा सकती है।2015 में इंग्लैंड में हुए रग्बी वर्ल्ड कप का चैम्पियन न्यूजीलैंड बना था। तब उसे इनाम के तौर पर 25.5 करोड़ रुपए मिले थे।

Check Also

फुटबॉल विश्व कप में दूसरे सेमीफाइनल में क्रोएशिया ने इंग्लैंड को 2-1 से हराया

फुटबॉल विश्व कप में दूसरे सेमीफाइनल में क्रोएशिया ने इंग्लैंड को 2-1 से हरा दिया। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *