भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड महिला खिलाडियों के लिए एक प्रदर्शनी टी 20 मैच आयोजित करेगी

आईपीएल के सीजन 11 के प्लेऑफ के पहले महिला टी20 चैलेंज मैच की टीमों की घोषणा कर दी है. स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर 22 मई को खेले जाने वाले इस मैच में टीमों की अगुवाई करेंगी. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी.

पिछले साल विश्व कप के फाइनल में पहुंचने के बाद भारतीय महिला क्रिकेट टीम की बढ़ी लोकप्रियता के बाद बीसीसीआई ने एक प्रदर्शनी टी 20 मैच आयोजित करने का फैसला किया है.इस मैच से निकट भविष्य में महिला आईपीएल के आयोजन की संभावनाओं को तलाशा जाएगा.

इस मैच में आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की महिला खिलाड़ी भी हिस्सा लेंगी. आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला ने कहा आईपीएल पहले की तरह जारी रहेगा. हमारी कोशिश महिला क्रिकेटरों को भी ऐसा मंच प्रदान करने की है.उन्होंने कहा इसके लिए हमने कई क्रिकेट बोर्डों से चर्चा की और मैं उसके नतीजे से खुश हूं.

न्यूजीलैंड की कप्तान सुजी बेट्स , महिला क्रिकेट में सबसे तेज अर्धशतक बनाने वाली सलामी बल्लेबाज सोफी डेविन, ऑस्ट्रेलिया की हरफनमौला एलिस पेरी , विकेटकीपर बल्लेबाज एलिसा हेली, मेगन स्कट और बेथ मूनी ने इस मैच के लिए अपनी भागीदारी की पुष्टि की है.

उन्होंने कहा इंग्लैंड की ओर से डेन्नी वायेट और डेनियल हेजल इसमें भाग ले रहीं हैं. यह मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा और इसका सीधा प्रसारण भारत और दुनिया भर में होगा.प्रशासकों की समिति ( सीओए ) की सदस्य और पूर्व भारतीय कप्तान डायना एडुलजी ने कहा हम महिला क्रिकेटरों के साथ अपनी तरह के पहले प्रदर्शनी मैच को लेकर रोमांचित है.

बीसीसीआई महिला क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए हरसंभव कोशिश कर रहा है. यह महिला खिलाड़ियों के लिए लीग क्रिकेट की तरफ उठाया गया छोटा लेकिन अहम कदम हैं. उन्होंने ने कहा आईपीएल की तर्ज पर मिताली राज, झूलन गोस्वामी, हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना और वेदा कृष्णमूर्ति जैसी भारतीय खिलाड़ियों को विदेशी सितारों के साथ देखना एक अनोखा अनुभव होगा जैसा हमने भारत में पहले नहीं देखा है.

यह टी 20 मैच दोपहर दो बजे से खेला जाएगा. जिसके बाद आईपीएल का पहला क्वालीफायर मुकाबला शाम सात बजे से होगा. कहा जा रहा है कि इस मुकाबले से बोर्ड महिला क्रिकेट को लेकर दर्शकों के मूड को परखेगा. अभी केवल क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ही महिलाओं की क्रिकेट लीग ‘बिगबैश’ आयोजित करता है. वहीं इंग्लैंड में भी महिला टी20 लीग लोकप्रिय है.  

भारत में महिला क्रिकेट में अभी उतने अच्छे हालात नहीं हैं. कुछ मामलों में तुरंत ध्यान देने की जरूरत है जिसमें सबसे खास खिलाड़ियों की कमी है.  अभी कुछ ही समय पहले हुई भारत ऑस्ट्रेलिया के बीच हुई वनडे मैचों की सीरीज  के दौरान कप्तान मिताली राज ने माना कि अभी भारत में महिला क्रिकेट के मामले में आईपीएल जैसे टूर्नामेंट से पहले कई जरूरी काम करने हैं जिनमें जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ साथ खिलाड़ियों की संख्या भी एक चिंता का विषय हैं.

गौरतलब है कि इस सीरीज में भारत की महिला टीम की बेंच स्ट्रेंथ की कमजोरी खुल कर सामने आई थी. मिताली का मानना है कि काफी कम लड़कियों का अभी महिला क्रिकेट में रुझान है, लेकिन जिस तरह से साल भर पहले ही महिला क्रिकेट की लोकप्रियता बढ़ी है उम्मीद है कि आने वाले कुछ सालों में महिला क्रिकेटरों की संख्या काफी इजाफा होना तय है.

Check Also

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने क्रिकेटर मोहम्मद हफीज को जारी किया कारण बताओ नोटिस

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अनुभवी हरफनमौला खिलाड़ी मोहम्मद हफीज को कारण बताओ नोटिस जारी किया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *