एकमात्र अभ्यास मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 103 रन से हराया

ऑस्ट्रेलिया ने बोर्ड अध्यक्ष एकादश की अनुभवहीन टीम को एकमात्र अभ्यास मैच में 103 रन से हराकर भारतीय दौरे का शानदार आगाज किया. ऑस्ट्रेलिया की टीम के पास भारत के खिलाफ 17 सितंबर से शुरू होने वाली पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला और उसके बाद तीन टी20 मैचों से पहले अभ्यास का यह एकमात्र मौका था, जिसमें उसके अधिकतर खिलाड़ियों ने यहां की परिस्थितयों में ढलने का अच्छा प्रयास किया.

स्टीव स्मिथ ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया जिसके बाद स्टोनिस (76), डेविड वॉर्नर (64), कप्तान स्टीव स्मिथ (55) और ट्रेविस हेड (65) ने अर्धशतक जमाये जबकि विकेटकीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड ने 45 रन की तूफानी पारी खेली. इससे ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 347 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया.

इसके जवाब में बोर्ड अध्यक्ष एकादश की टीम 48.2 ओवर में 244 रन पर आउट हो गयी. भारतीय टीम के आठ विकेट 156 रन पर निकल गये थे लेकिन नौवें नंबर के बल्लेबाज अक्षण कर्णीवार (40) और दसवें नंबर पर उतरे कुशांग पटेल (नाबाद 41) ने नौवें विकेट के लिये 66 रन जोड़कर हार का अंतर कम किया.

इन दोनों के अलावा श्रीवत्स गोस्वामी (43) और मयंक अग्रवाल (42) ही ऑस्ट्रेलिया के तेज और स्पिन मिश्रित आक्रमण का कुछ देर तक सामना कर पाये.बायें हाथ के स्पिनर एस्टन एगर ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने 44 रन देकर चार विकेट लिये. तेज गेंदबाज केन रिचर्डसन ने 36 रन देकर दो विकेट हासिल किये.

स्मिथ ने कुल आठ गेंदबाजों का उपयोग किया जिनमें जेम्स फाकनर, स्टोनिस और एडम जंपा को भी एक एक सफलता मिली. मैच को आधिकारिक मान्यता नहीं थी और इसलिए इसमें सभी खिलाड़ी खेल सकते थे लेकिन केवल 11 ही बल्लेबाजी या गेंदबाजी कर सकते थे.भारत ने अधिकतर खिलाड़ियों के दलीप ट्राफी में व्यस्त होने के कारण इस मैच में कम अनुभवी खिलाड़ियों को जगह दी थी.

ऑस्ट्रेलिया को हालांकि इससे परिस्थितियों को परखने का अच्छा मौका मिला. उसके बल्लेबाजों ने फिर से टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी. पिछले आईपीएल सत्र में किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से खेलने वाले स्टोनिस ने पावर हिटिंग का जबर्दस्त नजारा पेश किया और 60 गेंदों की अपनी पारी चार चौके और पांच छक्के लगाये.

वार्नर ने अपने सदाबहार अंदाज में बल्लेबाजी की और 48 गेंदें खेलकर 11 चौके लगाये. उन्होंने हिल्टन कार्टराइट के दूसरे ओवर में आउट होने के बाद कप्तान स्मिथ के साथ दूसरे विकेट के लिये 106 रन जोड़े. स्मिथ ने सहज होकर बल्लेबाजी की तथा 68 गेंदें खेली तथा चार चौके और एक छक्का लगाया.

हेड ने अपनी अच्छी फार्म बरकरार रखी. उनकी 63 गेंद की पारी में पांच चौके और एक छक्का शामिल है. विकेटकीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड ने डेथ ओवरों में लंबे शाट खेलने का अच्छा अभ्यास किया. उन्होंने 24 गेंदों पर दो चौकों और चार छक्कों की मदद से 45 रन की तेजतर्रार पारी खेली.

बोर्ड अध्यक्ष एकादश की तरफ से आलराउंडर वाशिंगटन सुंदर सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने आठ ओवरों में 23 रन देकर दो विकेट लिये. मध्यम गति के गेंदबाज कुशांग पटेल ने भी दो विकेट लिये लेकिन इसके लिये उन्होंने छह ओवरों में 58 रन लुटाये.

बोर्ड अध्यक्ष एकादश के बल्लेबाजों राहुल त्रिपाठी (सात), अग्रवाल, नितीश राणा (19) और कप्तान गुरकीरत सिंह मान (27) के पास चयनकर्ताओं का ध्यान खींचने का यह अच्छा मौका था लेकिन वे इसका फायदा नहीं उठा पाये. भारतीय टीम में केवल गुरकीरत ही ऐसा खिलाड़ी था जिसने तीन वनडे मैच खेले हैं.

Check Also

पहले टी 20 मैच में टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को 53 रन से हराया

टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को 53 रन से हराकर सीरीज में 1-0 बढ़त ले ली। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *