गोवा में हुए भाजपा गठबंधन पर बोली शिवसेना

शिवसेना ने कहा कि गोवा में नवनिर्वाचित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाला गठबंधन जल्द ही टूट जाएगी और सरकार गिरेगी। संजय राउत ने भाजपा के साथ दो क्षेत्रीय दलों और दो निर्दलीय विधायकों के गठबंधन को भ्रष्ट गठबंधन करार दिया। राउत ने यहां पत्रकारों से कहा मनोहर पर्रिकर रक्षा मंत्रालय छोड़कर सरकार बनाने और भाजपा को सत्ता में बनाए रखने के लिए गोवा आए।

जबकि उन्हें पता है कि उनकी सरकार के पांव मजबूती से टिके नहीं हैं और वे जल्द ही लड़खड़ाएंगे। यह भ्रष्टों का गठबंधन है।उन्होंने कहा कि जनादेश स्पष्ट रूप से भाजपा के खिलाफ था, लेकिन पर्रिकर ने सरकार चुरा ली और महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी व गोवा फॉरवर्ड जैसी स्थानीय पार्टियों ने गोवावासियों के साथ विश्वासघात किया है, क्योंकि उन्होंने चुनाव तो भाजपा के खिलाफ मुद्दों पर लड़ा था।

लेकिन नतीजे आने के बाद सत्ता के लालच में भाजपा का दामन थाम लिया। राउत ने कहा इन दोनों स्थानीय दलों ने भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ा, लेकिन मतदान के बाद तुरंत पाला बदलते हुए भाजपा से जुड़ गए। यह गोवावासियों के साथ धोखा है। गोवावासी उन्हें कभी माफ नहीं करेंगे। राउत ने यह भी कहा कि गोवा में शिवसेना को करारी हार मिली, इसके बावजूद वह गोवा में काम करते रहेंगे।

बता दें संजय राउत से पहले शिवसेना के मुखपत्र सामना में भी गोवा में भाजपा की सरकार बनने को लेकर कडी आलोचन की गई थी। शिवसेना ने शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में इसे लोकतंत्र की हत्या बताया था। एक संपादकीय में लिखा गया था कि छोटी पार्टियों ने राज्यपाल को इस शर्त के साथ स्वीकृति के पत्र दिए थे.

अगर मनोहर पर्रिकर को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा, तभी वे भाजपा को समर्थन देंगे.हालांकि भाजपा के लिए अपने 13 निर्वाचित विधायकों में से एक को मुख्यमंत्री चुनना आसान नहीं था।शिवसेना ने कहा कि गोवा की जनता ने हालांकि अयोग्य कांग्रेस का चयन किया है, लेकिन पार्टी त्वरित कदम नहीं उठा पाई और भाजपा ने तेजी से काम करते हुए संख्या के जोड़-तोड़ का लाभ उठा लिया। 

Check Also

कोच्चि मेट्रो का उद्घाटन करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

17 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोच्चि मेट्रो का उद्घाटन करेंगे और उसकी पहली यात्रा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *