Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

सेना ने लिया पुलवामा अटैक का बदला, पुलवामा अटैक का मास्टर माइंड अब्दुल रशीद गाजी एनकाउंटर में ढेर

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ (CRPF) काफिले पर हमला करने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना और सुरक्षाबलों ने उस बिल्डिंग को ही उड़ा दिया है जिसमें ये आतंकी छिपे हुए थे. पिछले कई घटों से पुलवामा के पिंगलीना इलाके में आतंकियों के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ जारी थी.

इस मुठभेड़ में सेना के एक मेजर समेत 4 जवानों के शहीद हो गए है. ऐसा भी बताया जा रहा है कि इस पुलवामा हमले में पुलवामा सीआरपीएफ हमले का मास्टरमाइंड आतंकी अब्दुल गाजी, जैश का कमांडर कामरान और उसका साथी आंतकी मोहम्मद इस्माइल भी मारा गया गया है. हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

इस ऑपरेशन को सेना की 55 राष्ट्रीय राइफल्स, जम्मू कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ की 182/183 बटालियन की ज्वाइंट टीम ने अंजाम दिया. ऑपरेशन अभी भी जारी है.जिस जगह आज ये मुठभेड़ हुई वह सीआरपीएफ हमले वाले स्थान से 10-13 किलोमीटर की दूरी पर है. 

पिंगलीना इलाके में छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों द्वारा खुद को घिरा देख फायरिंग शुरू कर दी थी. इसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की. काफी देर तक हुई फायरिंग में सेना के एक मेजर, एक हेड कॉन्सटेबल और दो सिपाहियों के शहीद होने की खबर है. 

शहीद होने वाले जवानों में मेजर डीएस डोंडियाल, हेड कॉन्सटेबल सेवा राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरी सिंह है. वहीं इस हमले में बुरी तरह घायल होने वाले सेना के जवान सिपाही गुलजार मोहम्मद को श्रीनगर के बदामीबाग इलाके स्थित सेना के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

वहीं सेना के एक और जवान के घायल होने की खबर है.ऐसा बताया जा रहा है कि पिंगलीना के इस घर में पुलवामा में सीआरपीएफ कैंप हमले को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी छिपे हुए है. भारतीय सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है, ऐसा बताया जा रहा है यहां 2-3 आतंकी छिपे हुए है.

ऐसी खबर है कि इस घर में छिपने वाले आतंकियों में सीआरपीएफ हमले को अंजाम देना वाले जैश आतंकी आदिल डार से जुड़े हुए हैं. ऐसा बताया जा रहा है कि पिंगलीना के इस घर में पुलवामा में सीआरपीएफ कैंप हमले को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी छिपे हुए है.

भारतीय सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है, ऐसा बताया जा रहा है यहां 2-3 आतंकी छिपे हुए है. ऐसी खबर है कि इस घर में छिपने वाले आतंकियों में सीआरपीएफ हमले को अंजाम देना वाले जैश आतंकी आदिल डार से जुड़े हुए हैं.पीएम नरेंद्र मोदी ने भी कहा था कि किसी भी तरह इस हमले के दोषियों के बख्शा नहीं जाएगा.

उन्होंने कहा था कि सुरक्षाबलों को को कार्रवाई की पूरे छूट दे दी गई है.जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकवादी हमले पर पड़ोसी देश पाकिस्तान को कड़ा संदेश देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आतंकी संगठन और उनके सरपरस्त बहुत बड़ी गलती कर गए हैं और इसके गुनाहगारों को उनके किये की सजा जरूर मिलेगी.

प्रधानमंत्री ने एक कार्यक्रम में कहा आतंकी संगठनों को और उनके सरपरस्तों को कहना चाहता हूं कि वो बहुत बड़ी गलती कर गए हैं. मैं देश को भरोसा दिलाता हूं कि हमले के पीछे जो ताकतें हैं, इस हमले के जो भी गुनहगार हैं, उन्हें उनके किए की सज़ा अवश्य मिलेगी.

पाकिस्तान को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा पूरे विश्व में अलग-थलग पड़ चुका हमारा पड़ोसी देश अगर यह समझता है कि जिस तरह के कृत्य वह कर रहा है, जिस तरह की साजिशें कर रहा है, उससे भारत में अस्थिरता पैदा करने में सफल हो जाएगा, तो वह बहुत बड़ी भूल कर रहा है.

उन्होंने कहा कि इस समय बड़ी आर्थिक बदहाली के दौर से गुजर रहे हमारे पड़ोसी देश को यह भी लगता है कि वह ऐसी तबाही मचाकर, भारत को बदहाल कर सकता है. उसके ये मंसूबे भी कभी पूरे नहीं होंगे. पीएम मोदी ने कहा कि 130 करोड़ हिंदुस्तानी ऐसी हर साजिश, ऐसे हर हमले का मुंहतोड़ जवाब देंगे.

उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले के बाद, अभी मन: स्थिति और माहौल दुःख और साथ ही साथ आक्रोश का है. ऐसे हमलों का देश डटकर मुकाबला करेगा, रुकने वाला नहीं है. हमारे देश के जिन वीरों ने अपने प्राणों की आहुति दी है, उनके सपनों को पूरा करने के लिए हम अपने जीवन का पल-पल खपा देंगे.

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह पुलवामा के आतंकवादी हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं. उन्होंने देश की सेवा करते हुए अपने प्राण न्योछावर किए हैं. दुःख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं, उनके परिवारों के साथ हैं.

Check Also

लोकसभा चुनाव के पहले चरण की 91 सीटों के लिए नामांकन पत्र भरने का आज आखिरी दिन

लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत 91 सीटों के लिए मतदान होना है। इसके …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *