Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

Yoga for Grey Hair White । बालों को सफ़ेद होने से बचाने के लिए करें ये आसन

hair-care

Yoga for Grey Hair White : बालों का सफेद होना आज बहुत ही आम सी बात हो चुकी है। कई लोग जब शीशे के सामने अपने सिर पर हाथ फिराते हैं और जब उन्‍हें सिर में सफेद बाल दिखाई देता है तो, उनके माथे पर साफ चिंता की लकीरें झलकने लगती हैं। प्रदूषण और तनाव की वजह से कम उम्र के लोगो को भी असमय सफेद होते हुए बालों की समस्‍या झेलनी पड़ रही है।

सफेद बाल होने का मुख्‍य कारण है खराब खान-पान, बहुत सारी चिंता और अलग-अलग प्रकार के हेयर प्रोडक्‍ट्स का प्रयोग। यदि आपको भी सफेद बालों की समस्‍या है तो आपको अपने बालों की केयर अभी से ही शुरु कर देनी चाहिये। बालों की सफेदी छुपाने के लिये कभी कभी हेयर कलर का प्रयोग नहीं करना चाहिये क्‍योंकि इससे बालों की जड़े कमजोर पड़ जाती हैं। इसलिये बोला जाता है कि घर की दवाई सबसे बेहतर होती है। तो आइये जानते हैं कुछ घरेलू उपचार हो आपके सफेद बालों को कर देंगे बिल्‍कुल काला।

मर्दों में भी बाल पतले होने, झड़ने, उम्र से पहले सफेद होने या अस्वस्थ होने जैसी कई शिकायतें होती हैं। हो भी क्यों न! आखिर बाल भी तो खूबसूरत और स्मार्ट लगने में मदद करते हैं। अगर इसके लिए ज्यादा घरेलू उपचार नहीं कर सकते तो कम से कम ये आसान योगा आसन ही कर लें। इससे न सिर्फ बाल सुंदर और घने बनेंगे बल्कि अपच और कम खून के बहाव जैसी समस्याएं भी दूर होंगी।

सर्वांगासन। पीठ के बल सीधे लेट जाएं और पैरों को इस तरह ऊपर उठाएं कि अंगूठे छत की तरफ हों। गर्दन, सिर औऱ पीठ के सहारे संतुलन बनाएं और हाथों को रीढ़ की हड्डी पर रखें। इस आसन से भी खून का बहाव सिर तक अच्छा होता है और बाल स्वस्थ होते हैं। इसे सांस लेने में भी आसानी होती है।

पवनमुक्तासन। पीठ के बल लेटें और घुटने को सीने की तरफ मोड़ें। फिर हाथ से घुटनों को जकड़ लें जैसे कि तस्वीर में बना है। घुटनों को अंदर मोड़ते वक्त सांस अंदर लें और जैसे जैसे घुटनों को वापस सीधा करें, सांस छोड़ें। इससे न सिर्फ बालों कूबसूरत बनते हैं बल्कि अपच की समस्या भी दूर होती है। पाचन सही होने से बाल भी स्वस्थ होते हैं।

उष्ट्रासन। घुटने के बल खड़ें हों, पीठ और सिर को पीछे की तरफ झुकाएं। इसे इस तरह करें कि आपके हाथ एढ़ियों तक पहुंचें। कुछ देर इसी मुद्रा में रहें और सांस लेते रहें। जैसे जैसे इस मुद्रा से पहली वाली साधारण मुद्रा में वापस आएं, सांस छोड़ें। बाल टूटने और पतले होने की परेशानी दूर हो जाएगी। हां लेकिन अगर पीठ में कई गहरी चोट लगी है तो इसे न करें।

वज्रासन। घुटनों को मोड़ कर बैठें औऱ रीढ़ की हड्डी सीधी रखें। हाथों को जाघों के ऊपर रखें। फिर सांस अंदर लें और छोड़ें। इसी तरह कुछ देर करते रहें। इस मुद्रा से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता सुधरती है जो सिर की खाल में होने वाले किसी भी तरह के इंफेक्शन से लड़ती है। इसे खाने के तुरंत बाद भी कर सकते हैं। भुजंगासन। पेट के बल सीधा लेटें। हाथों को सामने जमीन पर, कंधों की सिधाई में रखें। अब अपना वजन कुहनी पर डाल दें औऱ हथेली के सहारे सीने को ऊपर उठाएं। पैर सीधे ही रखें और इस मुद्रा में 20-25 सेकेंड तक रहें।

शीर्षासर। इसमें अपने शरीर को सिर के बल संतुलित करना होता है, हाथों का सहारा लेकर। ये यकीनन मुश्किल है लेकिन अगर नियमित तौर पर किया तो बालों को बहुत फायदा मिलेगा। ऐसा करने से खून सिर तक पहुंचता है जिससे जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं और बालों की जड़ें मजबूत होती हैं। और सबसे सरल प्राणायाम।

कपालभाति करें यानी नाक के एक छोड़ से धीरे धीरे सांस लें औऱ दूसरे से तुरंत छोड़ें। ऐसा करने से खून का बहाव अच्छा होता है औऱ दिमाग बेहतर तरीके से काम करता है। शरीर से हानिकारक टॉक्सिन बाहर निकलते हैं। तनाव दूर होता है जो कि बाल झड़ने के पीछे एक अहम कारण है।

Check Also

अगर आप भी चाहते है कैटरीना जैसी नाभि तो करें ये उपाय

सामग्री :- मुलतानी मिट्टी- एक चुटकी बादाम का तेल- दो बूंद नीबू  का रस – …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *