Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

वैदिक ज्ञान

Paths for the Future‎ । क्या है भविष्य पुराण की कुछ सच्ची भविष्यवाणियां जानिए

Paths for the Future : भविष्य पुराण भारत की प्राचीन सनातन संस्कृति का एक अनमोल हिस्सा है। यह 18 पुराणों में से एक है, इसके रचयिता महर्षि वेद व्यास हैं। व्यास जी ने यह पुराण कलियुग में होने वाली घटनाओं के उपर लिखा है। इसकी विषय-वस्तु एवं वर्णन-शैलीकी दृष्टि से अत्यन्त उच्च कोटि का है। इसमें धर्म, सदाचार, नीति, उपदेश, …

Read More »

Health Benefits of Cow Urine । क्या होता है गाय के मूत्र का महत्व जानिए

Health Benefits of Cow Urine : सनातन धर्म में गाय का विशेष महत्व है, गाय को 33 कोटि देवताओं की माँ भी कहा जाता है। स्वंय भगवान कृष्ण ने गोपालक का रूप रखकर ही अपनी बाल लीलांए की थीं। भगवान ने गाय को बहुत महत्व दिया है। प्राचीन ग्रंथों में गाय को कामधेनु के नाम से जाना जाता था। पुराण …

Read More »

The Importance of Mythology । पुराण के शाब्दिक अर्थ के बारे में जानिए

The Importance of Mythology : पुराण भारत की बहुत ही प्राचीन पुस्तके हैं। सनातन धर्म का आधार पुराण हैं, पुराणों का निर्माण लोगों की भलाई के लिए किया गया था। पुराणों में हमे धर्म, आचार, विचार, संस्कृति, कर्म-कांड, शास्त्र, विज्ञान, अर्थशास्त्र आदि का वर्णन मिलता है। सही मायने में देखा जाए तो पुराण में ही भारतीय संस्कृति का आधार है। …

Read More »

Know Om Mantra benefits ॐ के 11 शारीरिक लाभ जानिए

Know Om Mantra benefits : प्राचीन भारत से लेकर अबतक ॐ का बहुत महत्व है। ॐ सानतन संस्कृति का मूल आधार ही है , यह एक शब्द नहीं स्वंय परमात्मा ही है। आज संस्कृति में हम आपको ॐ के 11 शारीरिक लाभ बतायेंगे जो आपके लिए बहुत महत्वपुर्ण हैं। ॐ , ओउम् तीन अक्षरों से बना है। अ उ म् …

Read More »

Shiva Linga Puja । शिवलिंग पर शंख से जल क्यों नहीं चढ़ाते जानिए

Shiva Linga Puja : शिवलिंग भगवान शिव का ही एक रूप है यह रुप हमें परमपिता परमात्मा शिव के निराकार स्वरुप को दर्शाता है। माना जाता है कि शिवलिंग ही उस निराकार ज्योतिर्मय स्वरुप का प्रतीक है। शिवलिंग का रोज अभिषेक होता है हमारे देश में 12 शिवलिंग के मंदिर हैं , इनमें रोज शिवलिंग को जल चढ़ाया जाता है …

Read More »

End of Yadu Vansh । श्रीकृष्ण सहित पूरा यदुवंश कैसे खत्म हुआ जानिए

End of Yadu Vansh : भगवान कृष्ण राजा ययाति के पुत्र यदु के वंशज थे। यदु के ही वंशजों को यदुवंशी कहा जाता था। महाभारत के युद्ध में भगवान कृष्ण ने हिस्सा लिया था, इसी युद्ध का परिणाम ही था कि यदुवंश का नाश हुआ था।अठारह दिन चले महाभारत के युद्ध में रक्तपात के सिवाय कुछ हासिल नहीं हुआ।  इस …

Read More »

who was maharshi Vyasa । जानिये महाभारत के प्रणेता महर्षि व्यास के बारें में

who was maharshi Vyasa : व्यास अथवा वेदव्यास हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार भगवान नारायण के ही कलावतार थे। व्यास जी के पिता का नाम पराशर ऋषि तथा माता का नाम सत्यवती था। जन्म लेते ही इन्होंने अपने पिता-माता से जंगल में जाकर तपस्या करने की इच्छा प्रकट की। प्रारम्भ में इनकी माता सत्यवती ने इन्हें रोकने का प्रयास किया, …

Read More »

HISTORY OF AMARNATH GUPHA । जानें अमरनाथ गुफा के अद्भुत रहस्य के बारें में

HISTORY OF AMARNATH GUPHA : अमरनाथ गुफा भगवान शिव से संबधिंत है। अमरनाथ गुफा में भगवान शिव का हर वर्ष प्राकृतिक शिव लिंग बनता है जिसके दर्शन के लिए भारत ही नहीं समुचे विश्व से लोग आते हैं। जानिए इस गुफा से के सबसे अद्भुत औऱ अनजाने रहस्य।। शास्त्रों में जगह-जगह पर भगवान शिव के महात्म्य का वर्णन मिलता है। …

Read More »

The concept of 33 koti devata । जानें सनातन धर्म में 33 कोटि देवताओं के रहस्य के बारें में

The concept of 33 koti devata : सनातन धर्म विश्व का सबसे प्रचीन धर्म है। विशाल ज्ञान और रहस्यों से भरे इस धर्म में बहुत से कारण आज तक भी लोगों को ज्ञात नहीं है। सनातन धर्म में 4 वेद हैं 18 पुराण हैं और भी बहुत से दिव्य ग्रंथ हैं। माना जाता है कि सनातन धर्म में 33 कोटि …

Read More »

The Power of The Gayatri Mantra क्या है गायत्री मंत्र और उसका रहस्य

The Power of The Gayatri Mantra क्या है गायत्री मंत्र और उसका रहस्य  सनातन धर्म में गायत्री मंत्र का बहुत महत्व है। हर बालक, युवा और वृद्ध रोज गायत्री मंत्र का पाठ करता है। हमारे विद्यालयों और भवनो में भी प्रार्थना में गायत्री मंत्र शामिल होता है। यह एक बहुत दिव्य मंत्र है जिसका उल्लेख हमें वेदों औऱ पुराणों और …

Read More »