Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

आस्था

सावधान! कहीं आप भी तो हर जगह मन्नतें नहीं मांगते?

सावधान! कहीं आप भी तो हर जगह मन्नतें नहीं मांगते? जैसा की हमने आपको अपने पिछले लेख में बताया था की इंडिया हल्लाबोल के पाठकों की डिमांड पर हमने दुनिया की तन्त्र की राजधानी माने जाने वाली पीठ “कामख्या मंदिर” (गुवाहटी, असम) के भैरव पीठ के उत्तराधिकारी श्री शरभेश्वरा नंद “भैरव” जी महाराज से बात कर उनसे तन्त्र के सही …

Read More »

कहीं ऐसा तो नहीं आपका घर ही आपकी सफलता में बाधा बन रहा हो

कहीं ऐसा तो नहीं आपका घर ही आपकी सफलता में बाधा बन रहा हो      जैसा की हमने आपको अपने पिछले लेख में बताया था की इंडिया हल्लाबोल के पाठकों की डिमांड पर हमने दुनिया की तन्त्र की राजधानी माने जाने वाली पीठ “कामख्या मंदिर” (गुवाहटी, असम) के भैरव पीठ के उत्तराधिकारी श्री शरभेश्वरा नंद “भैरव” जी महाराज से …

Read More »

कहां से आया नाग, डमरु, त्र‌िशूल, त्र‌िपुंड और नंदी श‌िवजी के पास

कहां से आया नाग, डमरु, त्र‌िशूल, त्र‌िपुंड और नंदी श‌िवजी के पास  भगवान श‌िव का ध्यान करने मात्र से मन में जो एक छव‌ि उभरती है वो एक वैरागी पुरुष की। इनके एक हाथ में त्र‌िशूल, दूसरे हाथ में डमरु, गले में सर्प माला, स‌िर पर त्र‌िपुंड चंदन लगा हुआ है। माथे पर अर्धचन्द्र और स‌िर पर जटाजूट ज‌‌िससे गंगा …

Read More »

आज तक आप भी नहीं जानते होंगे तंत्र विद्या का ये स्वरूप Tantra Vidya

आज तक आप भी नहीं जानते होंगे तंत्र विद्या का ये स्वरूप Tantra Vidya जैसा की हमने आपको अपने पिछले लेख में बताया था की इंडिया हल्लाबोल के पाठकों की डिमांड पर हमने दुनिया की तन्त्र की राजधानी माने जाने वाली पीठ “कामख्या मंदिर” (गुवाहटी, असम) के भैरव पीठ के उत्तराधिकारी श्री शरभेश्वरा नंद “भैरव” जी महाराज से बात कर …

Read More »

विश्व की सबसे बड़ी तंत्र पीठ के उत्तराधिकारी से जानिये तंत्र का वास्तविक स्वरूप

विश्व की सबसे बड़ी तंत्र पीठ के उत्तराधिकारी से जानिये तंत्र का वास्तविक स्वरूप  आप सभी ने बहुत कुछ तंत्र के बारे में पढ़ा या सुना होगा। तंत्र की बात होते ही लोगों के मन में सब से पहले तंत्र अभिचार प्रयोग सम्बंधित विचार आते है। आज के युग में तंत्र के प्रति यह मान्यता है की यह दूसरे का …

Read More »

गुरूदीक्षा का महत्व Guru Diksha or Mantra Diksha

गुरूदीक्षा का महत्व Guru Diksha or Mantra Diksha  गुरु के पास जो श्रेष्ठ ज्ञान होता है, वह अपने शिष्य को प्रदान करने और उस ज्ञान में उसे पूरी तरह से पारंगत करने की प्रक्रिया की गुरु दीक्षा कहलाती है। गुरु दीक्षा गुरू की असीम कृपा और शिष्य की असीम श्रद्धा के संगम से ही सुलभ होती है। शास्त्रों में लिखा है- …

Read More »

फोटो से वशीकरण Photo Se Vashikaran in Hindi

फोटो से वशीकरण Photo Se Vashikaran in Hindi फोटो से वशीकरण मंत्र , तंत्र या यंत्र और विविध तांत्रिक या वैदिक साधानाओं के जरिए किए जाने वाले वशीकरण के नियम और विधान में जिस प्रकार से व्यक्ति का नाम महत्वपूर्ण होता है, उसी तरह से उसकी तस्वीर के उपयोग का भी महत्व है। इससे इन उपायों में हर प्रकार की कमी को …

Read More »

डाकू रत्नाकर से महर्षि वाल्मीकि बनने की कहानी

डाकू रत्नाकर से महर्षि वाल्मीकि बनने की कहानी Maharishi Valmiki Story in Hindi बहुत समय पहले की बात है किसी राज्य में एक बड़े ही खूंखार डाकू का भय व्याप्त था। उस डाकू का नाम रत्नाकर था। वह अपने साथियों के साथ जंगल से गुजर रहे राहगीरों को लूटता और विरोध करने पर उनकी हत्या भी कर देता। एक बार देवऋषि …

Read More »

जानिए श्री कृष्ण ने ब्रह्माजी का कैसे तोड़ा घमंड Brahma Moh Bhang Leela by Krishna

जानिए श्री कृष्ण ने ब्रह्माजी का कैसे तोड़ा घमंड Brahma Moh Bhang Leela by Krishna भगवान श्रीकृष्ण ग्वालबालों को बछड़ों सहित यमुना जी के पास ले आये। दिन अधिक चढ़ जाने के कारण सभी को भूख लगी थी। बछड़ों ने यमुना जी का पानी पिया। ग्वालबाल भगवान के साथ भोजन करने लगे। भगवान सब के बीच बैठकर अपनी विनोद भरी बातों …

Read More »

इन चार महान लोगों से भी हार गया था रावण

इन चार महान लोगों से भी हार गया था रावण रावण श्रीराम के अलावा शिवजी, राजा बलि, बालि और सहस्त्रबाहु से भी पराजित हो चुका था। यहां जानिए इन चारों से रावण कब और कैसे हारा था। राजा बलि के महल में रावण की हार दैत्यराज बलि पाताल लोक के राजा थे। एक बार रावण राजा बलि से युद्ध करने …

Read More »